काशी-महाकाल एक्सप्रेस ट्रेन में भगवान शिव भी करेंगे यात्रा, जानिए क्या है पूरा मामला

देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने वाराणसी काशी-महाकाल एक्सप्रेस ट्रेन को हरी झंडी दिखाई है। उत्तर प्रदेश के काशी और मध्य प्रदेश के उज्जैन, ओंकारेश्वर ज्योर्तिलिंग तीर्थस्थलों को जोड़ने वाली काशी महाकाल एक्सप्रेस ट्रेन 20 फरवरी से नियमित रूप से चलेगी।

देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने वाराणसी काशी-महाकाल एक्सप्रेस ट्रेन को हरी झंडी दिखाई । उत्तर प्रदेश के काशी और मध्य प्रदेश के उज्जैन, ओंकारेश्वर ज्योर्तिलिंग तीर्थस्थलों को जोड़ने वाली काशी महाकाल एक्सप्रेस ट्रेन 20 फरवरी से नियमित रूप से चलेगी। वैसे तो इस ट्रेन में कई खासियत हैं। लेकिन आप यह जानकर हैरान रह जाएंगे कि इस ट्रेन में एक सीट भगवान शिव के लिए भी आरक्षित की गई है। साथ ही इस सीट पर भोलेनाथ का एक छोटा मंदिर भी स्थापित किया गया है। भगवान शिव के लिए कोच संख्या बी5 की सीट संख्या 64 भगवान के लिए आरक्षित की गई है। यह ट्रेन उत्तर प्रदेश के वाराणसी से मध्य प्रदेश के इंदौर तक जाएगी। ऐसा पहली बार हुआ है जब एक सीट भगवान शिव के लिए आरक्षित और खाली रखी गई है। सीट पर बने मंदिर को स्थायी तौर पर करने के लिए विचार किया जा रहा है। ताकि लोग इस बात से अवगत हों कि यह सीट मध्य प्रदेश के उज्जैन के महाकाल के लिए है। इतना ही नहीं वाराणसी से इंदौर के बीच सप्ताह में तीन बार चलने वाली इस ट्रेन में भक्ति-भाव वाली हल्की ध्वनि से संगीत बजेगा, प्रत्येक कोच में दो निजी गार्ड होंगे और यात्रियों को शाकाहारी खाना परोसा जाएगा।

ट्रेन की बाकी सुविधाओं की बात करे तो काशी-महाकाल एक्सप्रेस के हर कोच में सीसीटीवी कैमरे की सुविधा है। हर कोच में एक कंट्रोल बनाया गया है। ट्रेन में सफर करने वाले हर यात्री का 10 लाख रुपये का मुफ्त बीमा किया जाएगा। यात्रियों से इसका कोई भी प्रीमियम नहीं लिया जाएगा। ट्रेन की सीटों की बात की जाए तो ये ट्रेन की सीटें बहुत ही आरामदायक बनाई गई है। हर केबिन में 6 चार्जिंग पॉइंट दिए गए हैं, इसके अलावा आईआरसीटीसी ने इस ट्रेन से सफर करने वाले
यात्रियों के लिए कई आकर्षक पैकेज भी तैयार किए हैं।


काशी महाकाल एक्सप्रेस हफ्ते में दो दिन मंगलवार और गुरुवार को वाराणसी से इंदौर के बीच चलेगी। लखनऊ, कानपुर, बीना, भोपाल, उज्जैन होते हुए यह ट्रेन इंदौर तक पहुंचेगी। इंदौर से बुधवार और शुक्रवार को उज्जैन, संत हिरदाराम नगर (भोपाल), बीना, कानपुर और लखनऊ होकर वाराणसी जाएगी। वाराणसी-इंदौर वाया इलाहाबाद-कानपुर-बीना ट्रेन रविवार को चलेगी जो कि सोमवार को इंदौर रेलवे स्टेशन पहुंचेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close